UA-166045260-1 शब-ए-कद्र की रात कौन सी रात है और किस प्रकार इबादत करें? - Islamic Way Of Life

Latest

A website for Islamic studies, Islamic History , Islamic teachings , Islamic way of Life , Islamic quotes, Islamic research , Islamic books , Islamic method of prayers, Islamic explanation of Quran, Islamic Hadith, Islamic Fatwa and truth of Islam.

Wednesday, 13 May 2020

शब-ए-कद्र की रात कौन सी रात है और किस प्रकार इबादत करें?

शब-ए-कद्र की रात कौन सी रात है और किस प्रकार इबादत करें?

Shab-E-Qadr


शब-ए-कद्र (लैलतूल-कद्र ) वाली रात अल्लाह का कलाम (कुरान ए करीम) पूरा का पूरा बैतूल इज्जत में नाजिल कर दिया गया था। बैतूल इज्जत (जिसे बैतूल मामूर भी कहते हैं) काबा शरीफ के बिल्कुल सीध में आसमान पर फरिश्तों की इबादत का मकाम है। फिर यह कलाम नबी करीम सल्लल्लाहू अलेही वसल्लम पर थोड़ा-थोड़ा करके जरूरत के अनुसार नाजिल किया जाता रहा। यहां तक कि 23 साल में इसकी तकमील हुई। शब-ए-कद्र की रात रमजान की कौन सी तारीख थी? इस बारे में कोई यकीनी बात नहीं कही जा सकती। कुछ विवादों से रमजान की 17 वी कुछ से 19वीं कुछ से 27वीं रात मालूम होती है इसलिए कुछ लोग लगातार 10 विषम तारीख वाले रातों को जाग कर इबादत करते हैं क्योंकि इस रात की गई अल्लाह की इबादत को हजार महीनों की इबादतों से बेहतर माना गया है।
शब-ए-कद्र की नमाज पढ़ने का तरीका

1:- 2 रकात नफिल नमाज शबे कद्र की हर एक में सूरह फातिहा के बाद इन्ना अंजलना एक मर्तबा और कुल हुअ अल्लाह हू अहद तीन मर्तबा पढ़ना है।
2:- 4 रकात नफिल नमाज शबे कद्र की एक ही नियत से हर एक में सूरह फातिहा के बाद इन्ना अंजलना एक मर्तबा और कुल हुअ अल्लाह हू अहद 27 मर्तबा पढ़ना है।
3:- 4 रकात नफिल नमाज शबे कद्र की एक ही नियत से हर एक में इन्ना अंजलना 3 मर्तबा और कुल हुअ अल्लाह हू अहद 50 मर्तबा पढ़ना है।
4:- 2 रकात नफिल नमाज शबे कद्र की हर एक में सूरह फातिहा के बाद इन्ना अंजलना एक मर्तबा और कुल हुअ अल्लाह हू अहद 100 मर्तबा पढ़ना है। या.....
2 रकात नफिल नमाज पहले रकात में सूरह फातिहा के बाद कोई एक सुरा और दूसरे रकात में सूरह फातिहा के बाद कुल हुअ अल्लाह हू अहद एक मर्तबा पढ़ना है।

1 comment:

  1. Very good 👍
    2-2 rekat nafil bhi padh sakte hain.
    Tilawat bhi kar sakte hain.

    ReplyDelete

Please do not enter any spam link in comment box.